मंगलवार, 4 अक्तूबर 2022

मकर राशि के लक्षण

मकर राशि हमारे राशि चक्र का कर्मभाव की राशि है,जो सफलता की सीढ़ी पर धीरे-धीरे और लगातार काम करना बताती है ।

बकरियों में परंपरा और संरचना की मजबूत भावना होती है,जो उन्हे उत्कृष्ट शिक्षक बनाती हैं । वे इतिहास का सम्मान करते हैं और विरासत को आगे बढ़ाने में विश्वास करते हैं । मकर राशि पर शनि का शासन है,जिसका अर्थ है कि वे चीजों पर लंबी दृष्टि रखते हैं । जैसे कछुआ खरगोश के खिलाफ दौड़ता है,वे भी अच्छी तरह जानते हैं कि "धीमा और स्थिर दौड़ने वाला ही अंतत: जीतता है ।

मकर राशि के जातक सभी राशियों में सबसे ज़्यादा दूरदर्शी होते हैं । जहां धनु और सिंह राशि वाले पार्टी कर रहे होते हैं,वहीं मकर राशि वाले भविष्य में चार साल के लिए अपने कार्यक्रम की योजना बना रहे होते है लेकिन भविष्य पर यह ध्यान हमेशा एक कीमत के साथ आता है ।

मकर राशि वाला भविष्य में इतना व्यस्त हो सकता है कि वह मृत्यु पर ध्यान केंद्रित करना शुरू कर देता है, और फिर आसानी और गहराई से उदास हो जाता है । मकर राशि वालों के लिए "हाय मैं हूँ" रवैये में पड़ना बहुत आसान है,बुरी चीजों की कभी न खत्म होने वाली श्रृंखला के बारे में चिंता करना जो हमेशा उन्हें सबसे कमजोर लगती हैं । शुक्र है,अपने दीर्घकालिक विचारों के कारण,अधिकांश बकरियां केवल अपना सिर नीचे रखकर और अधिक मेहनत करके इस बाधा को दूर कर सकती हैं ।

मकर राशि के लोग त्याग का अर्थ समझते हैं,क्योंकि उन बाधाओं में से प्रत्येक जो उन्हें सफलता के लंबे और धीमे रास्ते पर ले जाती है,उनका अर्थ है उन्हें दूर करने के लिए कुछ त्याग करना पड़ता हैं

मकर राशि वालों का रुझान काले रंग की ओर होता है,जो डिप्रेशन के लिए बिल्कुल उपयुक्त है । वे घर और शैली में पारंपरिक और विशेष रूप से भोजन करने मे भी झुकते हैं । बकरियां कुछ विदेशी खाने के बजाय सादा और सीधा खाना खाती पसंद करती हैं ।

मकर राशि के लोग बड़े संस्थानो में अच्छा प्रदर्शन करते हैं,जहां उनकी कार्य नीति उन्हें एक लंबी सीढ़ी तक अपना काम करने की अनुमति देती है । मकर राशि वाले संख्याओं और डेटा को संभालने के लिए विशिष्ट रूप से उपयुक्त होते हैं ।

अंत में,अपने पारंपरिक दृष्टिकोण और सहज शिक्षण कौशल के कारण,मकर राशि वाले उत्कृष्ट माता - पिता बनते हैं । बच्चे उन्हें एक वारिस देते हैं,किसी को परिवार की विरासत के साथ पारित करने के लिए,जो बकरी के श्रृंगार के मुख्य टुकड़ों में से एक होते है ।

 

रविवार, 2 अक्तूबर 2022

ज्योतिष द्वारा रिश्तो को बेहतर बनाए

ज्योतिष ग्रहो द्वारा हमारे दैनिक जीवन पर पड़ने वाले प्रभाव का अध्ययन है । ज्योतिष का अध्ययन आपको यह समझने में मदद कर सकता है कि ये प्रभाव आपके जीवन और आपके आसपास के लोगों को कैसे प्रभावित करते हैं । यह आपको बेहतर योजना बनाने और अपने सभी रिश्तों से अच्छे तरीको से निपटने में मदद कर सकता है ।

अपने रिश्ते को बेहतर बनाने के लिए ज्योतिष का उपयोग करने का पहला कदम अपनी खुद की ज्योतिषीय जन्म कुंडली प्राप्त करना है । आपकी ज्योतिषीय जन्म कुंडली और इसकी व्याख्या आपको अपने व्यवहार और दूसरों के प्रति प्रतिक्रियाओं के पीछे की उत्पत्ति और अंतर्निहित शक्तियों को समझने में मदद कर सकती है । ज्योतिषीय प्रभावों के आगे के अध्ययन से आप निर्णय लेने और रिश्तों में आने वाली समस्याओं के माध्यम से काम करने के लिए सबसे अच्छे समय को समझना शुरू कर सकते हैं

अपने रिश्तों को बेहतर बनाने के लिए ज्योतिष का उपयोग करने में अगला कदम उन लोगों की ज्योतिषीय जन्म कुंडली प्राप्त करना है, जिनके आप करीब बनना चाहते हैं । ये ज्योतिषीय जन्म चार्ट और उनकी व्याख्या आपको इन लोगों के बारे में कुछ ऐसी चीजें देखने में मदद करेगी जो आपने अभी तक नहीं देखी होंगी । वे आपको उनकी उत्पत्ति के बारे में और उनके जीवन में घटित होने वाली घटनाओं के बारे में अधिक जानने की अनुमति देंगे ताकि वे उन्हें इस शुद्ध व्यक्तित्व से उस व्यक्ति तक पहुंचा सकें जो वे वास्तव मे आज हैं ।

ज्योतिष की कला के आगे के अध्ययन के साथ आप सीख सकते हैं कि विभिन्न ग्रह, ग्रहों की चाल और संरेखण, सूर्य और चंद्रमा की स्थिति आपके मूड, घटनाओं पर प्रतिक्रियाओं और दूसरों के प्रति प्रतिक्रियाओं को कैसे प्रभावित करती है । आप यह भी जान पाएंगे कि ये ज्योतिषीय प्रभाव उन लोगों को कैसे प्रभावित करते हैं जिनके साथ आपके संबंध हैं । यह जानकारी आपको सबसे उपयुक्त समय पर रिश्तों में समस्याओं का सामना करने के लिए आवश्यक जानकारी उपकरण के रूप मे प्रदान करेगी ।

अपने रिश्तों को बेहतर बनाने के लिए ज्योतिष का उपयोग करने में अगला कदम सॉफ्टवेयर प्राप्त करना है जो आपको ग्रहों की चाल, ग्रहों के संरेखण और अन्य ज्योतिषीय घटनाओं को ट्रैक करने में सक्षम करेगा । सबसे उपयोगी ज्योतिष सॉफ्टवेयर यह भी विवरण प्रदान करेगा कि ये ज्योतिषीय घटनाएं विभिन्न संकेतों और व्यक्तित्वों को कैसे प्रभावित करती हैं | यह जानकारी आपको चर्चाओं, घटनाओं और प्रमुख निर्णयों की योजना बनाने मे बहुत मदद देगी ।

अपने रिश्तों को बेहतर बनाने के लिए ज्योतिष का उपयोग करने के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि जब आपके पास यह सारी जानकारी होगी तो आप अपनी भावनाओं और प्रतिक्रियाओं के साथ-साथ अपने रिश्तों में लोगों की भावनाओं के लिए भी बेहतर तरीके से तैयार होंगे । इससे आप इन लोगों के कार्यों, प्रतिक्रियाओं और भावनाओं के पीछे के आधार को समझ सकेंगे । यह आपको यह समझने में मदद कर सकता है कि आप कब किसी समस्या का कारण हैं, और विभिन्न ज्योतिषीय प्रभाव केवल समाधान को कठिन बना रहे हैं ।

जब आपके पास यह जानकारी होती है तो आप अपने रिश्तों में लोगों के साथ बेहतर संवाद करने में सक्षम होते हैं । आपको पता चल जाता हैं कि कब खुद को फैसलों से भावनात्मक रूप से दूर करना है, और कब आपके संघर्ष की सबसे अधिक संभावना है ताकि इसे टाला जा सके । जब आप अपने और अपने प्रियजनों पर ज्योतिषीय प्रभावों को समझेंगे तो आप अपने रास्ते में आने वाली किसी भी चीज़ से निपटने के लिए बेहतर तरीके से तैयार होंगे ।

शनिवार, 1 अक्तूबर 2022

कुंभ राशि के लक्षण

कुंभ राशि,जल-वाहक,शनि और यूरेनस दोनों द्वारा शासित है,ये दोनों ग्रह कुंभ राशि वालों को एक अद्वितीय स्वभाव देते हैं । शनि के प्रभाव से जहां इस राशि के तहत पैदा हुए लोग शांत और समतल होने की आदत रखते हैं वही दूसरी ओर,यूरेनस का प्रभाव इन्हे अपरंपरागत और अद्वितीय होने का निर्देश देता है ।

कुंभ एक मानवतावादी राशि है इसमें कोई संदेह नहीं है । कुंभ राशि के जातक फर्क करना पसंद करते हैं,यहां तक ​​कि इस पर चर्चा करने में बहुत समय लगाते हैं,क्योंकि वे आदर्शवादी और सपने देखने वाले होते हैं । उनके पास तार्किक सोच के लिए भी एक स्वभाव होता है,जो उनके तर्कों का समर्थन करने में बहुत मदद करता है ।

कुंभ पदानुक्रम से नफरत करता है,और कुरसी पर कदम रखने से इनकार करता है । उनका तार्किक, विश्लेषणात्मक दिमाग तर्क और कंप्यूटर के काम के लिए एकदम सही है । जिन क्षेत्रों में वे अच्छा नहीं करेंगे, वे "अस्पष्ट" क्षेत्र हैं,जैसे दलाली सौदे या बिक्री करना । वे कंप्यूटर की कठोर और ठोस दुनिया को सामाजिक कार्य की अधिक संतोषजनक दुनिया को बहुत पसंद करते हैं । केवल पैसे के लिए करियर चुनने के विचार से ज्यादा उन्हें कुछ भी परेशान नहीं करता है ।

धनु और कुंभ राशि में एक बात समान है जो सामाजिक शिष्टाचार की अवहेलना करना हैं । धनु राशि वालों को जहां लगता है कि शिष्टाचार बहुत कम है,जिसके लिए उसके पास थोड़ा धैर्य है, वहाँ कुंभ राशि के लोग सोचते हैं कि शिष्टाचार अभिजात्य है,पाखंड है,और इसे नजरअंदाज किया जाना चाहिये । वे वही बोलते हैं जो उनके मन में होता है ।

भावनात्मक रूप से अस्थिर होने के लिए कुंभ राशि की बहुत प्रतिष्ठा है । वे पतली त्वचा और स्पर्शपूर्ण रवैये के साथ संवेदनशीलता की ओर प्रवृत्त होते हैं खासकर जब उनकी आलोचना की जाती है । इसके अलावा,उन्हें अस्वीकृति का गहरा डर रहता है । कई कुंभ राशि वालों को उनके बारे में बात करने के बजाय अपनी भावनाओं को कागज़ पर लिखना आसान लगता है कुंभ राशि का संवेदनशील और भावुक स्वभाव शांत अग्रभाग से आगे निकल सकता है ।

कुम्भ राशि चक्र की सबसे आकर्षक राशि है । उन्हें विचित्र रंग,अजीब लहजे या उत्तेजक शैली भी पसंद होती है । यह यूरेनस का प्रभाव है,जो उन्हें औरों से अद्वितीय बनाता है ।

गुरुवार, 29 सितंबर 2022

चीनी ज्योतिष मे बंदर

यदि आपका जन्म 1944, 1956, 1968, 1980 या 1992 में हुआ है, तो आप चीनी ज्योतिष अनुसार बंदर हैं । जिन्हे बुद्धिमान और लोगों को प्रभावित करने में सक्षम बताया गया है जो उत्साही,उपलब्धि हासिल करने वाले,आसानी से निराश और भ्रमित हो जाते हैं । आपका सबसे अच्छा मैच ड्रैगन या चूहे के साथ है और बाघ से सावधान रहें ।

बंदर अच्छे श्रोता होते हैं और जटिल परिस्थितियों से आसानी से निपट लेते हैं । इस चिन्ह की प्राकृतिक जिज्ञासा इसे व्यापक बौद्धिक जिज्ञासा देती है । बंदरों का एक दिखावा पक्ष होता है जो अपने दोस्तों को  ये बताने के लिए की वे उनसे प्यार करते हैं प्रभावित करने मे लगे रहते हैं ।

 बंदर की दुनिया, पूरी लापरवाह ऊर्जा और आनंद, हर किसी के लिए नहीं है ऐसा नहीं है कि यह चिन्ह मतलबी है जो स्वयं के भले के लिए थोड़ा बहुत उत्सुक हो सकता है । बंदरों को अक्सर कम से कम एक बार हर चीज को आजमाने की जरूरत महसूस होती है, जिससे रिश्तों का सुखद दौर चल सकता है।

 बंदर का आत्मग्लानि का प्रेम अन्य प्रकार की परेशानी को भी जन्म दे सकता है । इस चिन्ह में भोजन, शराब और अन्य आनंददायक गतिविधियों से संबंधित आत्म - नियंत्रण हो सकता है । बंदर जन्म के लिए हर समय पार्टी का समय होता है, फिर भी जब यह एक राक्षस हैंगओवर या टूटे हुए दिल की ओर जाता है (आमतौर पर किसी और का, उनका नहीं), यह संकेत वास्तव में पश्चाताप का स्पर्श दिखा सकता है । वे अपने तौर - तरीकों की गलती को स्पष्ट रूप से स्वीकार नहीं करेंगे |

 बंदरों को कम से कम कुछ समय के लिए खुद से आगे दूसरों के बारे में सोचना सीखने की कोशिश करनी चाहिए । एक बार जब यह पता चल जाएगा कि दुनिया इसके इर्द-गिर्द नहीं घूमती है, तो इस चिन्ह की दुनिया और अधिक पूर्ण हो जाएगी

मंगलवार, 27 सितंबर 2022

खरगोश राशि के लक्षण (चीनी ज्योतिष)

चीनी ज्योतिष की राशियो में चौथे स्थान पर खरगोश राशि है ।

खरगोश अधिक भावनात्मक और संवेदनशील राशियो में से एक हैं । भावनात्मक रूप से नाजुक,खरगोश लोग व्यस्त या आक्रामक स्थितियों को नापसंद करते हैं । वे प्रतिस्पर्धा से दूर भागते हैं और इसके बजाय दुनिया में अपने निजी स्थान की व्यवस्था करने में अपनी ऊर्जा खर्च करने का विकल्प चुनते हैं

खरगोश राशि के तहत पैदा हुए लोगों में सजाने और मनोरंजक होने की प्राकृतिक क्षमता होती है । उनके पास रंग और इंटीरियर डिजाइन के लिए एक आंख होती है,और जब एक सुंदर घटना के बारीक विवरण की योजना बनाने की बात आती है तो वे इसमे आश्चर्यजनक रूप से कुशल होते हैं । वे हमेशा अपने सोफे को रखने के लिए सही जगह और कहने के लिए सही जगह जानते हैं ।

खरगोश चीनी राशि चक्र के देखभालकर्ता हैं । खरगोश लोग अपने आसपास के लोगों की देखभाल करना पसंद करते हैं । वे महान श्रोता होते हैं और आमतौर पर कई लोगों के विश्वासपात्र होते हैं । विचारशील और मिलनसार,खरगोश आदर्श रूप से राजनेताओं,राजदूतों या राजनयिकों के रूप में सेवा करने के लिए उपयुक्त पाये जाते हैं ।

खरगोश संस्कृति और उच्च समाज की दुनिया में अच्छी तरह से फिट होते हैं । वे अच्छी तरह से व्यवहार करते हैं और जीवन में बेहतर चीजों का आनंद लेते हैं । अपने संवेदनशील स्वभाव के कारण,खरगोश कई लोगों के साथ मिल जाते हैं,हालांकि,उनके दिल की गहराई में,वे आरक्षित होते हैं और आम तौर पर बौद्धिक गतिविधियों में अपना समय चुपचाप बिताना पसंद करते हैं ।

खरगोश राशि मे पैदा हुए लोगों का कोमल स्वभाव उन्हें डरपोक और चिंतित होना बनाता है । वे जोखिम लेने वाले नहीं हैं । एक खरगोश राशि वाला अपनी दिनचर्या को बहुत पसंद करता है और अज्ञात कार्यो के लिए जाना जाता है । जब भी कभी इस खरगोश राशि को नए अनुभव या एक अच्छा अवसर पारित करने के लिए प्रेरित किया जाएगा वे हमेशा सुरक्षित मार्ग चुनेंगे ।

खरगोश के लिए,शांत और सुरक्षा से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ नहीं है । हालांकि,जब वे किसी चीज के लिए भावुक होते हैं,तो अपनी मांद से बाहर निकल कर अपने स्वभाव के मजबूत,आत्मविश्वासी और अटूट पक्ष को दिखाने की कोशिश करेंगे इस खरगोश राशि के लोग धैर्यवान और क्रोध करने में धीमे होते हैं ।

रविवार, 25 सितंबर 2022

मेष राशि के लक्षण


मेष राशि का प्रतीक
चिह्न मेढा (पुरुष भेड़) है । यह चिन्ह पाश्चात्य ज्योतिष के अनुसार 21 मार्च से वसंत की शुरुआत को बताता है जो अपनी पुनर्जन्म की ऊर्जा के साथ,जैसे ही सर्दी समाप्त होती है और फूल खिलते हैं | ऊर्जावान और स्वतंत्रता प्रेमी होना मेष राशि का आदर्श उदाहरण है ।

मेष राशि के लोग मेमने की तरह होते हैं,अपने ग्रह स्वामी मंगल की तरह अग्निप्रधान होते हैं । वे जो चाहते हैं  अपने आत्मविश्वास और भावना के साथ उसके पीछे चलते जाते हैं,वे अत्याचार के खिलाफ लड़ाई में प्राकृतिक रूप से अग्रणी और अजेय दुश्मन बनाते रहते हैं ।

मेष राशि में जन्म लेने वाले लोग आत्मविश्वासी,बुद्धिमान और उत्साही होते हैं । उन्हें उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए प्रेरित किये जाने और एक टीम को इकट्ठा करने और उनकी खोज पर उनका अनुसरण करने के लिए प्रेरित करने से बेहतर कुछ नहीं है । वे आगे देखते हैं,और अतीत पर ध्यान नहीं देते । वे सभी राशियो में सबसे बहिर्मुखी हैं ।

नकारात्मक पक्ष पर,मेष राशि वालों को अपनी कमजोरियों जैसे स्वार्थ,अधीरता,आवेग से सावधान रहना चाहिए  ।मेष राशि वाले जिस चीज में विश्वास करते हैं उसके लिए लड़ बैठते हैं लेकिन वह श्रेष्ठ पुरुष अर्थात "अल्फा पुरुष" होने के लिए भी लड़ते हैं । वे परियोजनाओं को पूरा किए बिना शुरू करने में भी फंस जाते हैं ।

मेष राशि वालों से कभी भी धैर्य,चातुर्य या कूटनीति की अपेक्षा न करें और उनके तेज स्वभाव से सावधान रहें । वे इसमें इतने फंस जाते हैं कि उन्हें पता ही नहीं चलता कि वे कौन सी मूर्खतापूर्ण गलतियाँ करने वाले हैं।

मेष राशि वाले उत्कृष्ट उद्यमी बनते हैं पहल और नेतृत्व पर मजबूत ध्यान देने वाले किसी व्यक्ति के लिए यह एक स्वाभाविक प्रतिभा है । वे चुनौतियों का सामना करते हैं और उत्कृष्टता हासिल करना और जीतना पसंद करते हैं । प्रतीक्षा करने के लिए मजबूर होने पर वे अच्छी प्रतिक्रिया नहीं देते हैं,और इन्हे की भी सलाह स्वीकार करने में परेशानी होती है ।

मेष पहली राशि है,जो राशि चक्र का नेतृत्व करती है,और मेष राशि वाले लोग नेतृत्व करना पसंद भी करते हैं । वे एक शांत और नीरस डेस्क जॉब के लिए अपनी साहसिक खोज को छोड़कर कभी भी संतुष्ट नहीं होंते

गुरुवार, 22 सितंबर 2022

कॉमेडियन बनने के योग

 

कुंडली मे कॉमेडी के योग  

1)मंगल बुध/ चंद्र बुध/ शुक्र बुध/ मंगल शुक्र की युति अथवा दृष्टि संबंध होना चाहिए |

2)मंगल बुध का लग्न लग्नेश से संबंध होना चाहिए |

3)मंगल बुध में राशि परिवर्तन होना चाहिए |

आईए अब कुछ उदाहरण देखते हैं |

1)राजू श्रीवास्तव 25/12/1963 की पत्रिका मे मंगल बुध की युति है तथा मंगल शुक्र के नक्षत्र में है |

2)कैस्टो मुखर्जी 7/8/1925 की पत्रिका में मंगल बुध की युति है तथा बुध शुक्र की युति भी होती है |

3)जॉनी वाकर 11 नवंबर 1926 की पत्रिका में मंगल शुक्र तथा मंगल बुध का दृष्टि संबंध है तथा मंगल वक्री होकर शुक्र के नक्षत्र में ही है |

4)किशोर कुमार 4 अगस्त 1929 की पत्रिका में चंद्र बुध की युति है तथा शुक्र मंगल के नक्षत्र में ही है |

5)महमूद 29/9/1932 की पत्रिका में मंगल शुक्र तथा बुध चंद्र की युति है |

6)कपिल शर्मा 2/4/1981 की पत्रिका में चंद्र बुध मंगल शुक्र की युति है मंगल बुध के नक्षत्र में ही है |

7)सुनील ग्रोवर 3 अगस्त 1977 की पत्रिका में मंगल की दृष्टि बुध पर है |

8)भारती सिंह 3 जुलाई 1984 की पत्रिका में शुक्र बुध की युति है |

9)सुगंधा मिश्रा 30 मई 1988 की पत्रिका में बुध मंगल के नक्षत्र में है तथा बुध शुक्र की युति भी हैं |

10)क्रिस रॉक 7 फरवरी 1965 की पत्रिका में बुध शुक्र का युति संबंध है मंगल वक्री होकर बुध की राशि में बैठा है तथा बुध चंद्रमा के नक्षत्र में है |

11)जिम कैरी 17/1/1962 की पत्रिका में बुध शुक्र की युति है तथा बुध चंद्रमा के नक्षत्र में तथा मंगल शुक्र के नक्षत्र में है |

12)ऐंडी कौफमैन 17/1/1949 की पत्रिका में मंगल बुध की युति है बुध चंद्रमा के नक्षत्र में ही है |

13)टैग नोटारों 24/3/1971 में मंगल शुक्र के नक्षत्र में बैठकर बुध को देख रहा है तथा शुक्र मंगल के ही नक्षत्र में है |

13)देव चप्पेले 24/8/73 की पत्रिका में मंगल की दृष्टि बुध है |

14)जाकिर खान 20/8/1987 की पत्रिका में मंगल बुध मंगल शुक्र तथा शुक्र बुध की युति है |

15)वीर दास 31 मई 1979 की पत्रिका में मंगल शुक्र के नक्षत्र में शुक्र के साथ ही बैठा है तथा बुध चंद्रमा के नक्षत्र में है |

16)ब्रह्म नंदन 1 फरवरी 1956 की पत्रिका में मंगल की दृष्टि शुक्र पर है तथा बुध वक्री है मंगल बुध के नक्षत्र में भी है |

17)जगदीप 29 मार्च 1939 की पत्रिका में मंगल बुध का दृष्टि संबंध है तथा बुध वक्री है |

18)विजय राकी पत्रिका में चंद्र बुध का दृष्टि संबंध तथा शुक्र बुध का युति संबंध है |

19)शक्ति कपूर 3 सितंबर 1952 की पत्रिका में चंद्र बुध का दृष्टि संबंध है|

20)राजपाल यादव 16 मार्च 1971 की पत्रिका में मंगल की दृष्टि बुध पर है |

21)सुनील पाल 19/9/1975 की पत्रिका में मंगल शुक्र का दृष्टि संबंध है तथा बुध मंगल के नक्षत्र में बैठा है |

22)सतीश कौशिक 13 अप्रैल 1956 की पत्रिका में मंगल की दृष्टि बुध पर है|

23)कादर खान 22 अक्टूबर 1937 की पत्रिका में बुध मंगल के चित्रा नक्षत्र में स्थित है |

24)चार्ली चैपलिन 16/4/1889 20:00 बजे लंदन मंगल शुक्र की युति हैं तथा बुध नीच हैं |

25)गोविंदा 21/12/1963 14:27 मुंबई मंगल बुध युति मेष लग्न मे हैं |

26)जॉनी लीवर 14 अगस्त 1957 की पत्रिका में मंगल बुध की युति है |

27)परेश रावल 30 मार्च 1953 की पत्रिका में मंगल शुक्र की युति है तथा बुध वक्री है |

28)जेमी लीवर 19/8/1987 की पत्रिका में मंगल बुध बुध शुक्र तथा मंगल शुक्र की युति है मंगल और बुध दोनों एक ही नक्षत्र में स्थित है |

29)वरुण ग्रोवर 26/1/1980 की पत्रिका में मंगल शुक्र के नक्षत्र में बैठकर शुक्र को देख रहा है तथा बुध चंद्र के नक्षत्र में है |

30)मल्लिका दुआ 17 जुलाई 1989 की पत्रिका में मंगल शुक्र मंगल बुध तथा शुक्र बुध की युति है |

31)जसपाल भट्टी 3 मार्च 1955 की पत्रिका में बुध शुक्र की युति है तथा बुध चंद्रमा के नक्षत्र में है |

32)अशोक सराफ 4 जून 1947 की पत्रिका में चंद्रमा बुध के नक्षत्र में है तथा मंगल शुक्र की युति है |

 

 आप हमारी इस पोस्ट को https://youtu.be/fuQ0WVXZDgs पर भी देख सकते हैं |